नजरबंद रहेंगे राजा भैया के पिता उदय प्रताप

  • मोहर्रम के जुलूस व भंडारे को लेकर जिला प्रशासन ने की कार्रवाई
  • भदरी सहित इलाके में तैनाती रहेगी भारी फोर्स
  • हाई कोर्ट से भी नही मिली थी भंडारे की अनुमति

प्रतापगढ़ – पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को प्रशासन ने मोहर्रम के जुलूस के दिन भंडारे की अनुमति नही दी. प्रशासन ने उन्हें रविवार से ही अपने महल में नज़रबंद कर दिया है. नजर बंद की कार्रवाई जिला प्रशासन ने की है. मोहर्रम के जुलूस और भंडारे के आयोजन को एक साथ देखते हुए प्रशासन ने यह कदम उठाया है. आपको बता दें कि उच्च न्यायालय ने उदय प्रताप की मोहर्रम के दिन भंडारे पर जिला प्रशासन से फैसला लेने को कहा था. जिसे देखते हुए प्रशासन ने यह कदम उठाया है. मंदिर के साथ ही इलाके में फोर्स भी तैनात है.

कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के पिता उदय प्रताप बड़े राजा प्रत्येक वर्ष भदरी स्थित हनुमान मंदिर पर भंडारे का आयोजन करते हैं. मंदिर के सामने से ही सड़क से होकर मोहर्रम का जुलूस भी निकलता है. इस दौरान दो समुदाय के बीच विवाद होने का डर और भय बना रहता है. राजा उदय प्रताप हर साल मोहर्रम के दिन हनुमान म‌ंदिर पर पूजा पाठ और भंडारा करने पर अड़े रहते हैं. प्रशासन ने जुलूस को देखते हुए नौ सितंबर की शाम पांच बजे से दस सितंबर की रात दस बजे तक उदय प्रताप को नजर बंद करने का आदेश जारी कर दिया है. इस बीच वे भदरी महल में ही रहेंगे. मोहर्रम के दिन जुलुस निकलने के चलते मंदिर पर भण्डारा-पूजा करने की अनुमति जिला प्रशासन ने नहीं दी. मोहर्रम का जुलूस कड़ी सुरक्षा के बीच निकलवाने की तैयारी प्रशासन ने की है. काफी संख्या में बाहरी फोर्स मंगाई गयी है. जुलूस के दौरान मंदिर से लेकर गांव तक पीएससी तैनात रहेगी.

Share this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *