रेलवे लाइन पर गिरा पेड़,टला बड़ा हादसा

  • काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस के चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकी ट्रेन
  • तीन घंटे तक आधा दर्जन से अधिक ट्रेने जहां की तहां रुकी, परेशान हुए यात्री

प्रतापगढ़– काशीविश्वनाथ एक्सप्रेस के चालक की सतकर्ता से एक बड़ा रेल हादसा शनिवार को होते-होते टल गया। प्रतापगढ़-लखनऊ रेल मार्ग पर स्थित सहजीपुर हाल्ट के करीब शनिवार देर शाम एक शीशम का पेड़ इलेक्ट्रिक विद्युत तार को तोड़ते हुए रेलवे लाइन पर जा गिरा। इसी बीच काशीविश्वनाथ एक्सप्रेस पहुंच गई। चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोक दिया। ट्रेन में सवार यात्री सहम गए। करीब तीन घंटे तक ट्रेन खड़ी रही। इस बीच आधा दर्जन ट्रेने जहां की तहां रुक गई।
बनारस से चलकर नई दिल्ली को जाने वाली काशीविश्वनाथ एक्सप्रेस को चालक किशोरी लाल और सहायक शशिकांत मौर्य 6.58 बजे प्रतापगढ़ स्टेशन से लखनऊ के लिए रवाना हुई। 7.40 बजे सहजीपुर के समीप पहुंचे। इसी बीच सहजीपुर हाल्ट के पहले एक मोटा शीशम का पेड बरसात के चलते रेलवे लाइन पर गिरा दिखाई पड़ा। चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इमरजेंसी ब्रेक लगाए जाने से यात्रियों ने झटका महसूस किये तो वे परेशान हो गए।

ट्रेन रुकने के बाद चालक के साथ तमाम यात्री ट्रैक पर गिरे पेड़ के पास जाकर देखा तो इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने के लिए बिछाया गया विद्युत लाइन का तार भी टूटकर जमीन पर गिरा था। चालक ने तत्काल इसकी सूचना रेलवे कंट्रोल को दिया। कंट्रोल ने मैसेज पास किया तो रेल अफसर और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। तत्काल विद्युत सप्लाई बंद कराया गया। स्टेशन मास्टर से पूछने पर उन्होंने बताया कि कंट्रोल की सूचना पर पीडब्ल्यू आई प्रतापगढ़ की टीम मौके पर पहुंचकर पेड़ हटाना शुरू कर दिया है। जितेंद्र कुमार पीडब्लूआई ने बताया कि मोटा पेड़ होने के कारण कटाई करने में कुछ समय लग रहा है। हालाकि चालक की सूझबूझ ने एक बड़ा रेल हादसा रोक लिया।

Share this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *