प्रतियोगी छात्र की डेंगू से मौत

  • घर का इकलौता चिराग था नौशाद
  • कानपुर से एस आई की परीक्षा देकर लौटने के बाद शुरू हुआ था बुखार

प्रतापगढ़ – सप्ताह भर पहले कानपूर से सब इंस्पेक्टर की परीक्षा देकर लौटे प्रतियोगी छात्र की डेंगू के चपेट में आने से मौत हो गई. मौत की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया.
रानीगंज थाना क्षेत्र के भागीपुर लिलहा निवासी नौशाद 25 पुत्र नासिर कोटेदार प्रतियोगी छात्र है. वह घर पर ही रहकर सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था. बीते सप्ताह कानपुर से सब इंस्पेक्टर का परीक्षा देकर लौटने के बाद उसे बुखार आने लगा. परिजनों उसे सीएचसी रानीगंज ले गये. आराम न मिलने पर उसे प्राइवेट अस्पताल लेकर भागे. जाँच में पता चला कि उसे डेंगू हुआ है. चिकित्सक दवा देकर घर भेज दिये थे. सोमवार देर रात हालत बिगडऩे पर परिजन उसे लेकर रानीगंज सीएचसी पहुंचे जहां पर डॉक्टरों उसे मृत घोषित कर दिया.
नासिर के घर पांच बेटियों में इकलौता बेटा नौशाद था. नौशाद पढऩे में बहुत तेज था. नौशाद की मौत से नासिर कोटेदार के घर का चिराग बुझ गया. घरवालों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है.

” किसी के डेंगू से मौत की खबर नहीं है. मेडिकल कॉलेज या फिर किसी सरकारी अस्पताल से इस तरह की कोई रिपोर्ट नहीं आई है. प्राइवेट रिपोर्ट को नहीं माना जाता है. मलेरिया इंस्पेक्टर को भेजकर नौशाद के घर के आसपास दवा का छिड़काव करवा दिया जा रहा है. संदिग्ध लोगों का जांच के लिए नमूना लेने के लिए कहा गया है. “

सीएमओ डा. अरविन्द श्रीवास्तव
Share this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *